Registration Open to Philosophy Optional Batch हिन्दी (24-जून 9:15 am मुखर्जी नगर ) , English Batch (11 June 05:30 pm Karol Bagh ) Call Us 9810172345

आपको यहाँ एक समग्र द्रष्टि लेकर चलना होगा, न कि मात्र कुछ शब्दों वाले उस निर्देश को।इस समग्रता को इस प्रकार समझा जा सकता है।
1. सिविल सर्विस की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता स्नातक है। यानी कि किताबें भले ही 12वीं तक की हों, लेकिन उन्हें पढ़ने वाला मस्तिष्क न्यूनतम स्नातक स्तर का है। मस्तिष्क की यह प्रौढ़ता उन्हीं तथ्यों को समझने और व्यक्त करने के स्तर में काफी इज़ाफा कर देती है।
2. आगे के निर्देशों में यूपीएससी ने ‘‘विविध विषयों पर सामान्य जानकारी’’ के साथ-साथ ‘‘विश्लेषण तथा दृष्टिकोण अपनाने की क्षमता’’ की भी बात कही है। यहाँ ‘‘दृष्टिकोण अपनाने की क्षमता’’ का संबंध ‘मौलिक विचार’’ से है कि आप उसके बारे में क्या सोचते हैं। यह वह मुख्य विन्दु है, जो परीक्षा को महाविद्यालय की परीक्षा से बिल्कुल अलग कर देता है। इस प्रकार ‘विश्लेषण’ तथा ‘मौलिकता’ इस परीक्षा की तैयारी के लिए दो सबसे चुनौतीपूर्ण शब्द हैं।
3. समसामयिक ज्ञान (करेंट अफेयर्स) तैयारी के तरीके में एक नया तथा महत्वपूर्ण आयाम जोड़ देते हैं। हांलाकि इतिहास के लिए यह तथ्य ज्यादा मायने नहीं रखता। लेकिन अन्य विषयों की तैयारी के लिए तो (यहाँ तक कि भूगोल के लिए भी) यह केन्द्रीय तत्व बन जाता है; क्योंकि जो प्रश्न पूछे जाते हैं, वे इसी के इर्द-गिर्द घूमने वाले होते हैं।
ये तीन मुख्य विन्दु मुख्यतः सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी के आपके स्तर का निर्धारण करते हैं-केवल मुख्य परीक्षा के लिए ही नहीं, बल्कि प्रारम्भिक परीक्षा के लिए भी।

Call Now ButtonCall Us
X
WhatsApp chat